16.2 C
Noida
Thursday, February 29, 2024

Download App

स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी जानकारी, बताया कोवैक्सीन, कोविशील्ड का दूसरा टीका लेने के बाद कितने लोग हुए पॉजिटिव

न्यूज़ डेस्क: बुधवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों पर ताजा हालात की जानकारी देते हुए कहा कि देश में कोरोना के मामले पिछले साल की लहर से अधिक प्रभावी हैं। आज की ताजा हालात ऐसे हैं, कि देश के 146 जिले ऐसे हैं जो सरकार के लिए चिंता का विषय हैं। इन 146 जिलों में कोविड पॉजिटिविटी रेट 15 प्रतिशत से अधिक है। मंत्रालय ने कहा कि सभी राज्यों में कोरोना की दूसरी लहर का प्रकोप देखा जा रहा है। फिलहाल अभी जो सक्रिय मामले हैं, वो पिछले साल के एक्टिव के मुकाबले दो गुने हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय ने जानकारी दी कि, देश के 740 जिलों में से 146 जिलों में 15 प्रतिशत से ज्यादा पॉजिटिविटी रेट हैं और यही इस समय सरकार के लिए चिंता का विषय है। इसके अलावा मंत्रालय ने कहा कि, 274 जिलों में से 5 से 15 प्रतिशत पॉजिटिविटी रेट है, 308 जिलों में पॉजिटिविटी रेट 5 प्रतिशत से कम है।

PTI के मुताबिक केंद्र सरकार ने कहा है कि कोरोना की वैक्सीन कोवैक्सीन का दूसरी टीका लेने के बाद देश में 0.04 प्रतिशत लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि वहीं कोविशील्ड की दूसरी डोज के बाद जो लोग पॉजिटिव पाए गए उनकी की संख्या 0.03 फीसदी है। वहीं स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव राजेश भूषण ने जानकारी कि महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, कर्नाटक, छत्तीसगढ़, केरल सबसे ज्यादा प्रभावित राज्यों में हैं।

जानकारी सामने आई है कि, कोवैक्सीन को देश में 1.1 करोड़ लोगों ने लिया है, जिसमे पहली डोज लेने के बाद 4208 और दूसरी डोज लेने के बाद 695 लोग दोबारा पॉजिटिव हुए। वहीं 11.6 करोड़ लोगों को कोविशील्ड दिया गया। जिसकी पहली डोज लेने के बाद 17145 और दूसरी डोज लेने के बाद 5014 लोग पॉजिटिव हुए।

स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव राजेश भूषण ने कहा, “देश में हम कोरोना वायरस की दूसरी बड़ी लहर का सामना कर रहे हैं। पिछले साल पहली लहर देखी गई थी, उस दौरान सर्वाधिक 94 हजार मामले आते थे। लेकिन अब मामले दो लाख से अधिक आ रहे हैं। इससे निपटने के लिए राज्य और केंद्र सरकार मिलकर काम कर रहे हैं। हम सबकी कोशिश है कि इस संकट से बाहर निकला जाय। जिस तरह से हमने पहली लहर में खुद को बाहर निकाला था। हालांकि भूषण ने राहत की खबर देते हुए कहा कि इस लहर एक आशा कि एक किरण दिखाई दे रही है कि मृत्यु दर में कमी आ रही है। 5 राज्य ऐसे हैं, जहां 1 लाख से ज्यादा केस हैं।

सम्बंधित खबर

अयोध्या में लता मंगेशकर चौक का सीएम योगी ने किया उद्घाटन

न्यूज़ डेस्क: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को दिवंगत गायिका लता मंगेशकर की 93वीं जयंती पर अयोध्या में उनके नाम से चौक का उद्घाटन...

अयोध्या से प्रयागराज तक पदयात्रा करेगी आम आदमी पार्टी, जानिए कब से होगी शुरू

न्यूज़ डेस्क: कांग्रेस अपनी ‘भारत जोड़ो यात्रा’ में व्यस्त है और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (एसबीएसपी) ने अपनी ‘सावधान यात्रा’ शुरू कर दी है,...

PFI पर CM योगी की दो टूक- ये नया भारत है, राष्ट्र की सुरक्षा में खतरा बने संगठन स्वीकार्य नहीं

न्यूज़ डेस्क: केंद्र सरकार ने ‘पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया’ (पीएफआई) व उससे संबद्ध कई अन्य संगठनों पर पांच साल का प्रतिबंध लगा दिया है....

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Stay Connected

5,058फैंसलाइक करें
85फॉलोवरफॉलो करें
0सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

Latest Articles

अयोध्या में लता मंगेशकर चौक का सीएम योगी ने किया उद्घाटन

न्यूज़ डेस्क: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को दिवंगत गायिका लता मंगेशकर की 93वीं जयंती पर अयोध्या में उनके नाम से चौक का उद्घाटन...

अयोध्या से प्रयागराज तक पदयात्रा करेगी आम आदमी पार्टी, जानिए कब से होगी शुरू

न्यूज़ डेस्क: कांग्रेस अपनी ‘भारत जोड़ो यात्रा’ में व्यस्त है और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (एसबीएसपी) ने अपनी ‘सावधान यात्रा’ शुरू कर दी है,...

PFI पर CM योगी की दो टूक- ये नया भारत है, राष्ट्र की सुरक्षा में खतरा बने संगठन स्वीकार्य नहीं

न्यूज़ डेस्क: केंद्र सरकार ने ‘पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया’ (पीएफआई) व उससे संबद्ध कई अन्य संगठनों पर पांच साल का प्रतिबंध लगा दिया है....

बिहार में नीतीश पर बरसे अमित शाह, पूछा- दलबदल कर नीतीश बाबू PM बन सकते हैं क्या?

न्यूज़ डेस्क: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने पूर्णिया के रंगभूमि मैदान में 'जन भावना महासभा' में हिस्सा लिया। इस दौरान उन्होंने जनसभा को...

बिलावल भुट्टो ने उठाया कश्मीर मुद्दा, भारत बोला- अल्पसंख्यकों के अधिकारों के दमन का लंबा रहा है पाकिस्तानी इतिहास

न्यूज़ डेस्क: भारत ने संयुक्त राष्ट्र में कहा कि "अल्पसंख्यकों के अधिकारों का घोर उल्लंघन" जैसे शब्दों का प्रयोग करना गलत है जिससे पाकिस्तान...